स्टेच्यु ऑफ यूनिटी की विजिट। Statue of unity ki visit। Visit of Statue of unity। Travel Teacher

                  
                            दोस्तो, ये पोस्ट उन सभी पर्यटको के लिए हैं जो, स्टेच्यु  ऑफ यूनिटी जाना चाहते हैं। आपने स्टेच्यु ऑफ यूनिटी के बारें में बहुत कुछ पढा होगा, देखा होगा, सुना होगा और शायद आप बहुत कुछ स्टेच्यु ऑफ यूनिटी के बारें में जान भी गये होंगे। अगर आप स्टेच्यु ऑफ यूनिटी कैसे पहुचें, कौन-कौन से रुट हैं, सबसे पोप्युलर रुट कौन सा है, नजदिकी दुसरे अच्छे प्लेस कौन से हैं,स्टेच्यु ऑफ यूनिटी के मुख्य आकर्षण कौन से है, वगैरा-वगैरा जानना चाहते हैं तो, ये पोस्ट पुरी पढें।

गुजरात की यात्रा करने वाले यात्रियों के पास अब अपने यात्रा कार्यक्रम मे शामील करने के लिए स्टेच्यु ऑफ यूनिटी एक नया पर्यटन स्थल हैं। अखंड भारत के लौह पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल की 143 वीं जन्म जयंती पर श्रद्धांजलि देते हुए यह मूर्ति का उद्घाटन किया गया था। 182 मीटर की ऊँचाई वाली यह मूर्ति अब दुनिया की सब से ऊँची मुर्ति हैं। इसके उद्घाटन के एक महीने से भी कम समय के भीतर स्टेच्यु ऑफ यूनिटी गुजरात के प्रमुख पर्यटक आकर्षणों में से एक बन चुका हैं। पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए, गुजरात पर्यटन विभाग ने न केवल प्रतिमा स्थल में प्रवेश के लिए ऑनलाइन बुकिंग खोली हैं, बल्कि विविध पर्यटन पैकेज भी प्रस्तुत कियें हैं। स्टेच्यु ऑफ यूनिटी से महज 10 मिनट की दूरी पर स्थित पंचमुली झील और टेंट सिटी नर्मदा के किनारें एक शानदार प्रकृति का आकर्षण पर्यटकों के लिए खुला रखा गया है। ऐतिहासिक एवं पौराणिक शूलपनेश्वर मंदिर और राजसी राजवंत पैलेस (राजपीपला) जैसे अन्य स्थानीय पर्यटकों के स्थानों का पता लगाने की अनुमति देता हैं। अब आप प्रवेश टिकट और आवास सहित अपने पूरे टूर पैकेज को ऑनलाइन बुक कर सकते हैं। दोस्तो, सबसे पहले स्टेच्यु ऑफ युनिटी के मुख्य आकर्षण के बारे में जान लेते हैं।

स्टेच्यु ऑफ युनिटी के मुख्य आकर्षण
१.गेलेरी व्यु (Gallery view)                
२. वेलि ऑफ फ्लावर (Valley of flower) 
३. वोल ऑफ युनिटी (Wall of unity)
४. सेल्फी पोइंट (Selfie point) 
५. लेझर लाइट एंड साउंड शो (Laser light and sound show)
६. म्युझियम एंड ऑडीयो विझ्युअल गेलेरी (Museum and Audio visual gallery) 
७. बटरफ्लाय पार्क (Butterfly park) 
८. टेन्ट सिटि,शोपिंग सेन्टर,३ स्टार होटेल (Tent city,Shopping centre,3 Star hotel)

टिकट प्राइस/चार्जिस
बेझिक एन्ट्री टिकट :- रु 120 एडल्ट के लिए और बच्चों के लिए रु 60 ( इस मे आप वेली ओफ फ्लावर,म्युझियम एंड ओडीयो विझ्युअल गेलेरी,मेमोरीयल,साइट,बट्टरफ्लाय पार्क,सरदार सरोवर,डेम देख सकते हो।)

गेलेरी व्यु :- रु 350 एडल्ट के लिए और बच्चो के लिए रु 200

टिकट विन्डो और एन्ट्री गेट सुबह के 9 am. से शाम के 6 pm. तक खुला रहता है।

दोस्तो, ये लिस्ट के हिसाब से आप प्लानिंग कर सकते हैं कि आपको यहा कितना वक्त बिताना हैं। ये जो नंबर ५. लेझर लाइट एंड साउंड शो (Laser light and sound show) ये शाम मे ७ बजे (07 p.m) शुरु होता है। तो,उसके हिसाब से आप प्लान करे।
दोस्तो, स्टेच्यु ऑफ युनिटी के आस पास कइ एसी दुसरी जगह हैं, जहा जाना लोग पसंद करते है। कुछ प्राकृतिक सौंदर्य वाली जगह हैं तो, कुछ धार्मिक आस्था से जुडी जगह हैं, तो कइ जगह दोनो मेल वाली है। आपकी पसंद और वक्त के हिसाब से प्लानिंग करें की आपको कहा कहा जाना हैं और कितना समय बितना हैं। तो दोस्तो, पहले वो जगह के बारें में बात करते हैं।

Statue of unity ke paas me dekhne vali jagah/Best places near Statue of unity
१. झरवानी धोध और झरवानी ईको केमसाइट (Zarvani waterfalls and Zarvani echo camsite)
२. शुलपाणेश्वर वाइल्ड लाइफ सेंचुरी और शुलपाणेश्वर महादेव मंदिर (Shulpaneshwar wild life sanctury and Shulpaneshwar mahadev temple)
३. राजवंत पेलेस (Rajvant palace)
४. हरसिध्धि माताजी मंदिर (Harsiddhi mataji temple)
५. कुबेर भंडारी - करनाली (Kuber bhandari -Karnali)
६. निलकंठधाम स्वामिनारायण मंदिर - पोइचा (Nilkanthdham swaminarayan temple -Poicha)

दोस्तो, ये सभी जगह स्टेच्यु ऑफ युनिटी से ज्यादा दूर नहि हैं।आप बिलकूल नि:संदेह वहा जा सकते हैं। ये लिस्ट में कुबेर भंडारी - करनाली (Kuber bhandari -Karnali) और निलकंठधाम स्वामिनारायण मंदिर - पोइचा (Nilkanthdham swaminarayan temple -Poicha) सबसे टोप एंड मोस्ट हैं। ये दोनो जगह नर्मदा नदी के तट पर आमने सामने हैं। उम्र के सभी वर्ग के लोगो का पसंदीदा स्थल हैं। युवा और कपल ज्यादा आते हैं यहा पर।

रेल मार्ग से स्टेच्यु ऑफ यूनिटी केसे पहुचें। How to reach Statue of unity by train
जो लोग रेल से यात्रा करने वाले हैं, उनको पहले वडोदरा जाना होगा या फिर भरुच या अंक्लेश्वर जाना होगा। उसके बाद आप ओटो टेक्षी, केब, बस वगेरा परिवहन का उपयोग कर सकते हो। आप राजपीपला होकर स्टेच्यु ऑफ यूनिटी पहुच सकते हो।
(वडोदरा 90 kmऔर भरुच-अंक्लेश्वर 91 km)
रेलवे स्टेशन :- वडोदरा-बरोडा
भरुच
अंक्लेश्वर

हवाइ मार्ग से स्टेच्यु ऑफ यूनिटी केसे पहुचें। How to reach Statue of unity by plain
जो लोग हवाइपट्टी से यात्रा करने वाले हैं, उनको पहले वडोदरा जाना होगा या फिर सुरत जाना होगा। उसके बाद आप ओटो टेक्षी, केब, बस वगेरा परिवहन का उपयोग कर सकते हो। आप राजपीपला होकर स्टेच्यु ऑफ यूनिटी पहुच सकते हो।
(वडोदरा-बरोडा 90 km और सुरत 149 km)
एयरपोर्ट :- वडोदरा एयरपोर्ट
सुरत एयरपोर्ट

सडक मार्ग से स्टेच्यु ऑफ यूनिटी कैसे पहुचें। Sadak marg se Statue of unity kaise pahuche। Statue of unity ka root। Root of Statue of unity :
१. वडोदरा से - कपुराइ चोकडी - दभोइ - सेगवा - पोइचा - राजपीपला - स्टेच्यु ऑफ यूनिटी
२. भरुच - झाडेश्वर चोकडी - झगडीया - उमल्ला - राजपीपला - स्टेच्यु ऑफ यूनिटी
३. अंक्लेश्वर - राजपीपला चोकडी - झगडीया - उमल्ला - राजपीपला - स्टेच्यु ऑफ यूनिटी
४. सुरत - कामरेज चोकडी - कोसंबा - अंक्लेश्वर - राजपीपला चोकडी - झगडीया - उमल्ला - राजपीपला - स्टेच्यु ऑफ यूनिटी
५. सुरत - कामरेज - कोसंबा - मिया मांगरोल - नेत्रंग - राजपीपला - स्टेच्यु ऑफ यूनिटी

                         देशभर और यहां तक ​​कि विदेशों से भी पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए, गुजरात सरकार स्टेच्यू ऑफ यूनिटी साइट से लगभग 26 किमी दूर राजपीपला शहर में एक हवाई अड्डा बनाने की योजना बना रही हैं। केवडिया में रेलवे स्टेशन बनाने और इसे अहमदाबाद, सूरत और वडोदरा सहित प्रमुख शहरों से जोड़ने के लिए रेलवे के साथ भी चर्चा हुई हैं।

                              तो दोस्तो, ये थी स्टेच्यु ओफ युनिटी की प्राइसिंग, टाइमिंग, आकर्षण और कुछ दुसरी जगह के बारे  में जानकारी। अब बात करते हैं विझिट प्लानिंग कैसे करे तो, वडोदरा-बरोडा वाला जो रुट उपर बताया गया है, वही सब से बढीया रुट है। पहले आप पोइचा और करनाली घुम ले, दर्शन कर ले, नर्मदा स्नान-त्रिवेणी स्नान कर ले उस के बाद आप स्टेच्यु ऑफ यूनिटी जाये तो और भी अच्छा हैं। नहि तो फीर स्टेच्यु ऑफ यूनिटी की विझिट के बाद जाओगे तो वो भी अच्छा रहेगा। उस के बाद शूलपाणेश्वर, झरवानी धोध, हरसिध्धि माताजी, राजवंत पेलेस की विझिट रखों। अगर भरुच-अंक्लेश्वर वाले रुट से जाना चाहते तो झगडीया से ४ की.मी पहले पौराणिक गुमानदेव हनुमानजी मंदिर है वहा दर्शन करने के बाद सीधा राजपीपला होकर स्टेच्यु ऑफ यूनिटी चले जायें। फिर, शूलपाणेश्वर, झरवानी के बाद राजपीपला हरसिध्धि माताजी, राजवंत पेलेस विझिट कर के अंत मे आप, कुबेर भंडारी- करनाली और स्वामिनारायण मंदिर-पोइचा होकर अपनी यात्रा समाप्त कर सकते हैं। ये दोनो रुट ही मे आपको सजेस्ट करुंगा जो आपके लिए बहुत अच्छे रहेंगे।

          दोस्तो, अगर आप इस तरह से अपनी स्टेच्यु ऑफ यूनिटी की विझिट प्लान करते हैं तो, आपकी विझिट मनोरंजक के साथ साथ पवित्र, भक्तिमय, औऱ आनंद दायक बन जायेगी। और हा,यात्रा के समय अपनी बेग मे छोटा सा एक फर्स्ट एइड का बोक्ष जरुर रखें,अपनी मोबाइल की बेटरी फुल रखें। और डस्टबिन का जरुर उपयोग करें। ज्यादा से ज्यादा पेपर से बनी डिस्पोझल चीजें (पेपर कप, पेपर बेग) का उपयोग करें। कामना करता हुँ कि, ये जानकारी आपको फायदेमंद हो और आपकी यात्रा-विझिट आनंदमय,मंगलमय हो।

                        ।। जय माताजी,जय कुबेर ।।

'ट्रावेल टिचर' ब्लॉग का समर्थन करें, वेबसाइट को चालू रखने में मेरी सहायता करें। आपकी एक छोटी सी मदद मुजे भारत के बेहतरीन पर्यटन स्थल और हिंदु, बौद्ध, जैन, शीख जैसे धर्मो के धार्मिक स्थल की महत्वपुर्ण जानकारी ब्लॉग के माध्यम से दुनिया के सामने रखने के लिए उत्साहित करेगी। आपका स्वैच्छिक योगदान मेरे ब्लॉग को जारी रखने में और भारत देश का त्याग,बलिदान,समर्पण,शौर्य,पराक्रम,विरता वाला गौरवपुर्ण इतिहास पर्यटन जानकारी के द्वारा दुनिया के सामने रखने में सहायक साबित हो सकता हैं।  कृपया उस राशि का भुगतान करें जिसके साथ आप सहज हैं; ₹10 से लेकर ₹10000 तक कुछ भी भुगतान कर सकते हैं।
Pay with PayPal


नोट: ब्लॉग-वेबसाइट को चालू रखने के लिए मुजे पैसे खर्च करने पड़ते हैं, यदि आप गुणवत्ता और मेरें प्रयासों से संतुष्ट हैं तभी मेरी सहायता के लिए विचार करें। हम आपसे 
स्वैच्छा से भुगतान करने के लिए कह रहे हैं जो आपने 
पहले ही पढ़ा हैं। हालाँकि यह कोई दान नहीं है,कृपया ध्यान दें कि आपको कर कटौती नहीं होगी जैसा कि दान के साथ होता है। आपके विचार करने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद।

एक टिप्पणी भेजें

1 टिप्पणियाँ